Tag » Nikita

दिल से सलामी...

सुमिता, दरवाजे पर खड़े होकर पोस्टमैन चाचा का इंतजार कर रही थी. तभी पोस्टमैन चाचा आये, और उसके हाथ में एक चिठ्ठी थामकर चले गए, चिठ्ठी में लिखा था।
प्रिय सुमि,
कैसी हो? माँ कैसी है ? मुझे लगता है सब ठीक ही होंगे!! मै भी ठीक हु!! तुम हमेशा तकरार करती थी ना कि मै छुट्टिया नहीं लेता, तो सुनो, मै जल्द ही आ रहा हु, छुट्टिया निकाल कर आने वाले १५ अगस्त को मेरी तरफ से गाव के तिरंगे को सलामी देकर आना, मै जल्द ही आ रहा हु माँ को मेरा ढेर सारा प्यार देना, अपना और माँ का ख्याल रखना ।
– तुम्हारा आर्मी मेन
सुमिता बहोत खुश थी, राजीव के पसंद के बेसन के लड्डू भी उसने बना लिए थे, राजीव बहोत दिनों बाद आखिर घर आने वाला था…
१५ अगस्त का दिन: राजिव को आने में ४-५ दिन बाकी थे, उस दिन गाव में देशभक्ति का माहोल था, सुमिता को राजीव ने बताये जैसे तिरंगे को सलामी देकर आना था, सुमिता घर से निकली ही थी कि पड़ोस कि चाची ने आवाज दी, सुमु!! “ गाव में आर्मी कि गाड़ी आयी है !!” ये सुनकर, सुमिता फुले न समां रही थी, उसे कुछ भी सूझ नहीं रहा था, और राजीव यू अचानक आया है, इसी मोह में वो दौड़ती, भागती आर्मी से आई गाड़ी कि तरफ दौडने लगी, और अचानक, वो गाड़ी उसके सामने आयी, गाड़ी से राजीव निकला, पर सुमिता के चेहरे का रंग उड़ गया था, गाड़ी से तिरंगे मे लिपटा राजिव का शव था, कल रात बॉर्डर पर हुये हमले में राजीव को गोलीया लगी थी, राजीव को उस हाल में देखकर वो स्तब्ध हो गयी थी, लेकिन कुछ पल के बाद खुद को संभल कर सुनीता राजीव के पास गयी.. और राजीव और उसके उपर लिपटे तिरंगे को सेलुट किया, वहा मौजूद लोग भी तिरंगे से लिपटे राजीव के शव को सलामी दे रहे थे।
सुमिता दूर होकर सोच रही थी कि, गाव के तिरंगे को आज कैसे दिल से सलामी मिली।
यह बस एक छोटासा प्रयास था लोगो को हमारे जवानो कि जिन्दगी का अनुभव कराने का.. आपको अगर दिल से अपने जवानो के प्रति भाव है तो कृपया इसे शेअर करे और भी हमारे पोस्ट पढ़ने के लिए ब्लॉग को फॉलो करें।

– निकिता जंगले (सावनेर)

Hislop college, Nagpur

Articles

Nikita - Tangan Kuat Yang Memegangku

Saat ku sendiri, tiada seorangpun
Yang memperhatikanku seperti Kau Tuhan
Saat ku berjalan, dalam lembah kelam
Kupercaya Kau selalu sertaku 130 kata lagi

Lirik Lagu Rohani

Nikita feat. Franky Sihombing - Cinta Sejati

Saat kurenungkan hidup bersamaMu
Seringkali kumelupakanMu
Kuberjalan sendiri seakan kumampu
Lalui tanpa kekuatanMu 160 kata lagi

Lirik Lagu Rohani

Nikita - Kubrikan Syukurku

Kau Bapa yang baik
Selalu besertaku
Setiap detik setiap waktu
Kau perhatikanku 90 kata lagi

Lirik Lagu Rohani

Nikita - Allah Roh Kudus

Allah Roh Kudus
Penuhi kami
Kurindu Kau selalu
Dalam hidupku 93 kata lagi

Lirik Lagu Rohani

Nikita - Ajaiblah Tuhan

Ajaiblah Tuhan
Kau sungguh heran
Semua yang di surga
Memuja Tuhan 138 kata lagi

Lirik Lagu Rohani

Nikita - Ada Ampun Bapa Bagimu

Anak Bungsu pergi ke neg’ri orang
Tinggalkan Bapanya mengeluh
Akhirnya habislah uang dan barang
Hidupnya dalam susah penuh 81 kata lagi

Lirik Lagu Rohani